आयुर्वेदिक नुस्ख़े घरेलू उपचार हेल्थ और फ़िट्नेस

पथरी ठीक करने के घरेलू उपाय-Pathri Theek Karne Ke Gharelu Upay

पथरी ठीक करने के घरेलू उपाय:  यह विचार बहुत से लोगो के मन मे चलता है पथरी क्यू होती है पथरी को कैसे ठीक करें यह शिकायत बहुत दर्दभरी होती है इससे होने वाला दर्द आसहनिय होता है|इसलिए इसे पेट से जुड़े गंभीर रोगो मे से एक माना जाता है|आज कल शरीर मे पथरी होना बहुत से लोगो मे देखा जा रहा है| पथरी की बीमारी काफी समानय होती जा रही है शरीर के कुछ अंगो मे मिनरल साल्ट (Mineral Salt) जमा होकर पत्थर का रूप ले लेता है जिसे हम पथरी कहते है जो की दाल के दाने से लेकर टैनिस बॉल के बराबर तक होती है पथरी जिसे हम स्टोन भी बोलते है यह शरीर मे  4 जगह पर हो सकती है| लोग पथरी को ठीक कराने के लिए महंगे महंगे ऑपरेशन कराते है लेकिन इस समस्या का इलाज आयुर्वेदिक विधि द्वारा कर सकते है|

 

पथरी कितने तरह की होती है

  • किडनी और उरेटर (पेशाब की नली) और यूरिनरी ब्लैडर (Urinary Bladder) जिसे हम पेशाब की थैली बोलते है इस अंग मे पथरी के रोगी  सबसे अधिक पाये जाते है |
  • पित्ते की थैली जिसे गल ब्लैडर (Gall Bladder) भी कहते है इसमे पथरी होना समानय है |
  • पैंक्रियास ग्लैंड (Pancreas Gland) यह हमारे शरीर मे खाना पचाने का काम करता है इसमे बहुत कम लोगो के स्टोन पाया जाता है|
  • लार बनाने वाला ग्लैंड जिसे सलाइवा ग्लैंड (Salaiva Gland) बोलते है यह ग्लैंड हमारे मुह के अंदर होता है और इसमे भी पथरी हो जाती है लेकिन यह माना जाता है पथरी के मामलो मे से एक प्रतिशत मामले भी सलाइवा ग्लैंड के रोगी नहीं होते|

गुर्दे की पथरी के लक्षण

  • गुर्दे की पथरी का दर्द बार -बार हल्का तेज़ होता है और थोड़ी थोड़ी देर बाद होता रहता है
  • पथरी की वजह से कमर मे दर्द होता है
  • पेशाब करने मे परेशानी होना
  • बुखार आना और उल्टी आना
  • पेशाब मे खून आना
  • पथरी के दौरान रुक रुक कर पेशाब आता है
  • पेशाब का रंग बदलना ,गंदा ,पीला कलर का पेशाब आना
  • पथरी का दर्द बहुत ही असहनिए होता है इस दर्द की वजह से ना तो आप ठीक से सो पाते है न ठीक से बैठ पाते है और न आप ठीक से खड़े रेह पाते है
  • पेशाब मे अजीब सी बदबू आने लगती है
  • अगर आपके पेट मे भी ऐसा पेट दर्द होता है तो यह पथरी होने का लक्षण हो सकता है तुरंत इसकी जांच कराये

किस वजह से गुर्दे मे और पित्त मे पथरी होती है

  1. कम पानी पीने की वजह से
  2. कम पानी पीने की वजह से पेशाब सही से नहीं आ पाता और इस वजह से पेट मे मोजूद जो कण नहीं निकाल पाते जो बाद मे पथरी का रूप ले लेते है
  3. बचपन मे मिट्टी और ईट जैसे पदार्थ खाना
  4. चीज़ों को लापरवाही से खाना उनमे कोई कंकर आजाए तो उसको नज़र अंदाज़ कर देना
  5. सुपारी या गुटका जैसी चीज़ों का सेवन करना

पथरी के उपचार और घरेलू नुस्खे

 

  • 15 से 20 दाने बड़ी इलाइचि के लें और एक चम्मच खरबूजे के बीज की गिरि और 2 चम्मच मिश्री इन सबको एक कप पानी मे मिलकर सुबह और शाम पानी मे दोनों टाइम पीने से पथरी निकाल जाती है|
  • पका हुआ जामुन पथरी के रोग के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है पथरी होने पर पका हुआ जामुन खाना बहुत ही लाभकारी है|
  • ज़ीरा और शकर को एक समान मात्र मे पीस कर उसका पाउडर बना लें और फिर एक चम्मच सुबह और एक दोपहर और एक चम्मच शाम मे दिन मे तीन बार ठंडे पानी से सेवन करने से लाभ होता है|
  • आंवला भी पथरी रोगियो के लिए बहुत लाभदायक है आंवला का चूरन मूली के साथ खानेसे मूतराशे की पथरी निकाल जाती है|
  • सहजन की सब्जी खाने से बहुत फाइदा होता है इससे पथरी टूट कर बाहर निकाल जाती है|
  • आम के पत्ते लेकर धूप मे सूखा लें और उसे बहुत बारीक पीस लें और 8 ग्राम गुलाब जल के साथ पिये इससे बहुत लाभ होता है|
  • मिश्री सूखा धनिया सौंफ 50-50 ग्राम लेकर 1 लिटर पानी मे भिगो कर रख दीजिये और दूसरे दिन इनको पानी से निकाल कर पीस लें और इसे घोल बना कर पीलें आपको पथरी से जल्द राहत मिलेगी |
  • चाय या कॉफी या फिर कोई पेय पदार्थ जिसमे केफ़्फ़िन पाया जाता हो उसका सेवन न करें हो सके तो कोल्ड ड्रिंक अधिक मात्र मे पिये|
  • बेल के पत्थर को थोड़ा पानी मिलकर घिस लें और एक काली मिर्च डालकर सुबह काली मिर्च खाये और दूसरे दिन दो काली मिर्च खाये और उसके तीसरे दिन तीन काली मिर्च खाये प्रतिदिन एक काली मिर्च बढ़ाते जाये यह प्रिकरिया आपको लगातार 7 दिन तक करनी है और जब आठवा(8) दिन आए काली मिर्च की गिनती उल्टी शुरू करदे एक तक वापस ले आए फिर दो हफ्ते मे आपको पथरी से राहत मिलती है और इस प्रिकरिया मे बेल का पत्थर 2 से 3 दिन तक ज़रूर चलाएं|
  • ज़ीरा और मिश्री की चाशनी शहद के साथ लें इससे पथरी घुल कर पेशाब के साथ निकल जाती है|
  • पथरी मे हमे ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीना चाहिए अगर ज़्यादा से ज़्यादा पानी नहीं पीते तो शरीर मे पानी की कमी होने से गुर्दे मे पानी के कम छनता है और पानी कम छनने की वजह से शरीर मे मौजूद कैल्सियम, यूरिक एसिड ,और भी दूसरे तत्व होते है जिनके कारण  पथरी बनती है वो गुर्दे मे फस जाते है जिससे पथरी बन जाती है|
  • पथरी लिकालने के लिए अनार फायदेमंद होता है एक दो ताज़ा अनार खाये या फिर अनार का जूस पिये|
  • नारियल का पानी पथरी के रोग मे फायदेमंद होता है अगर आपको पथरी है तो नारियल पानी पीना चाहिए|
  • तुलसी के बीज का हिमजीरा चीनी के साथ लें इससे मूत्र पिंड मे फासी हुई पथरी निकल जाती है|
  • रोजाना दिन मे 2-3 बार नींबू पानी पीने से पथरी मे तुरंत लाभ होता है|

 

आशा करता हूँ आपको हमारी पोस्ट पथरी ठीक करने के घरेलू उपाय आपको अच्छी लगी हो अगर आपको हमारी दी गयी जानकारी अच्छी लगी तो इसे शेयर करें और हमे कमेंट मे ज़रूर बताए धन्येवाद|

Leave a Comment