महिला स्वस्थ

प्रेग्नेंसी रोकने और अनचाहे गर्भ से बचने के आसान उपाय-Pregnancy Rokne Aur Anchahe Garbh Se Bachne Ke Aasan Upay

प्रेग्नेंसी रोकने और अनचाहे गर्भ से बचने के आसान उपाय : अनचाहे गर्भ से बचने के लिए बहुत सी महिलाएं गर्भनिरोध के तरीके आज़माती हैं । इन तरीको को अपनाकर महिलाएं अपनी अनचाही प्रेग्नेंसी से भी बचती हैं । लेकिन बहुत सी बार ऐसा होता है की महिलाएं अनचाहे गर्भधारण का शिकार हो जाती हैं । इसके अलावा कुछ प्रेमी जोड़े भी होते हैं जो प्यार मे बह कर आपसी संबंध बना लेते हैं । फिर बाद मे लड़की प्रेग्नेंट न हो इसलिए कुछ उपाय अपनाते हैं ।

इस समस्या से बचने के लिए बहुत सी लड़कियां प्रेग्नेंसी रोकने की दवाइयों का इस्तेमाल करती हैं । इसका एक सबसे आसान तरीका है सुरक्षित मेल बनाना लेकिन कई बार ऐसा भी होता है के सुरक्षित तरीके अपनाने के बाद भी कोई गलती हो जाति है । फिर गर्भ निरोधक गोली और टबलेट का सहारा लेना पड़ता है । तो आइये जानते हैं प्रेग्नेंसी रोकने के तरीके और प्रेग्नेंसी से बचने के उपाय

प्रेग्नेंसी न हो इसके लिए क्या करें

  1. गर्भधारण का सबसे अच्छा समय महिलाओं के पीरियड्स खतम होने के एक हफ्ते बाद का होता है । इसलिए अगर प्रेग्नेंट होने से बचना है तो अपने पीरियड्स खतम होने के एक हफ्ते बाद तक शारीरिक संबंध बनाने से बचने की कोशिश करें । अगर आप एक हफ्ते के अंदर शारीरिक संबंध बना रहे हैं तो सुरक्षा का खास ख्याल रखें ।
  2. प्रेग्नेंसी से बचने के लिए पीरियड्स आने से 5 से 6 दिन पहले तक और पीरियड्स आने के एक हफ्ते बाद तक शारीरिक मेल करते समय अपनी सुरक्षा का उचित इंतेजाम रखें । बहुत से लोग यह पूछते हैं की लड़की प्रेग्नेंट कब होती है यह सबसे आम समय होता है प्रेग्नेंट होने का अगर गर्भधारण नहीं करना है तो इस समय यौन संबंध बनाने से बचें ।
  3. ऐसा बहुत सी बार होता है की महिलाओं को प्रेग्नेंट होने के बारे मे थोड़ी देर से पता चलता है काफी बार तो 1 या 2 महीने बाद महिलाओं को प्रेग्नेंट होने का पता चलता हैं । उसे खतम करने के लिए महिलाएं टेबलेट का इस्तेमाल करती हैं लेकिन ऐसा करना उनके लिए सुरक्षित नहीं है । ऐसा करने से पहले उनहे डॉक्टर की सलाह ज़रूर लेनी चाहिए ।

प्रेग्नेंसी रोकने के लिए घरेलू उपाय और आसान नुस्खे

Pregnancy Rokne Ke Liye Gharelu Upay Aur Aasan Nuskhe in Hindi

यौन संबंध का समय

अनचाहे गर्भ से बचने का यह बहुत आसान और कारगर तरीका माना जाता है । ओव्यूलेशन के दौरान महिलाओं को यौन संबंध बनाने से बचना चाहिए । क्यूंकी यह समय ऐसा होता है इस दौरान महिला बहुत जल्दी प्रेग्नेंट हो जाती है मासिक धर्म के शुरू होने से कम से कम 5 दिन पहले महिलाओं की प्रेग्नेंट होने की संभावना आम दिनो से ज़्यादा होती है और मासिक धर्म खत्म होने के एक हफ्ते बाद तक गर्भवती होने की संभावना ज़्यादा रहती हैं ।

वेजाइनल रिंग

यह प्लास्टिक का एक छल्ला होता है जिसे महिलाएं अपनी यौनि के अंदर रखती हैं और इससे महिलाएं प्रेग्नेंट होने से बच सकती हैं । इस छल्ले की मदद से एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टिन हॉरमोन निकलते रहते हैं जिससे आपके शरीर मे डिंब का उत्पादन बंद होता है । जिससे महिलाएं गर्भवती नहीं होती हैं इस रिंग का साइज़ लगभग 5 से. मी. की होती हैं । यह लचीले प्लास्टिक से बनी हुई होती हैं इसे आप खुद यौनि के अंदर आराम से रख सकती हैं और इसको 20 से 22 दिन तक यौनि मे रख सकती हैं और सेक्स के दौरान भी यौनि मे रख सकती हैं ।

इमप्लांट के ज़रीए

यह एक हॉरमोन युक्त चोटी सी छड़ होती है जिसे महिलाओं की बांह की चमड़ी के नीचे डाल देते हैं । इसको 3 से 5 साल तक के लिए ऐसे ही रहने दिया जाता है इमप्लांट करने के बाद से यह लगातार प्रोजेस्ट्रोन हॉरमोन निकालता रहता है । जिससे महिलाओं की अनचाही गर्भवती होने की समस्या दूर हो जाती है । हॉरमोन की तुलना के अनुसार इससे अंडाशय के डिंब का उत्पादन भी बंद हो जाता है । लेकिन यह तरीका भारत मे आसननी से उपलब्द नहीं होता ।

कंडोम का इस्तेमाल

जब भी यौन संबंध बनाना हो तो सेक्स के दौरान कंडोम का प्रियोग बहुत अच्छा आना जाता है । इससे गर्भ नहीं ठहरता है और यह सेफ सेक्स का तरीका भी माना जाता है इससे आपको कोई बीमारी भी नहीं होती । लेकिन कंडोम का प्रियोग सही तरीके से करने की जानकारी होना भी ज़रूरी है । अगर कंडोम सही तरीके से नहीं पहना जाये तो यह सेक्स करते समय बीच मे ही फट जाएगा जिससे महिला गर्भवती हो सकती है । इसीलिए आपके लिए ज़रूरी है की यौन संबंध बनाते समय आपको कंडोम पहनने का सही उपयोग पता हो इसके लिए आप किसी से सही सलाह भी ले सकते हैं ।

गर्भनिरोधक गोलियां

प्रेग्नेंट होने से बचने के लिए बाज़ार मे बहुत सी गर्भनिरोधक गोलियां मौजूद हैं जिन गोलियों का सेवन करने से महिलाएं अनचाही प्रेग्नेंसी से बच सकती हैं । असुरक्षित सेक्स करने के बाद 72 घंटे के अंदर इन गोलियों का सेवन गर्भधारण की संभावना को कम करता है । इन गोलियों का सेवन खाने के बाद करना चाहिए खाली पेट अगर इन गोलियों का सेवन किया जाये तो उल्टी हो सकती है । अगर ऐसा हो जाता है की गोली खाने के तीन घंटे बाद आपको उल्टी आ जाति है तो तुरंत आपको दूसरी गोली ले लेनी चाहिए । यह बात याद रखे के अगर इन गोलियों का ज़्यादा सेवन किया जाये तो आगे चलके गर्भधारण करने मे दिक्कत आ सकती है । इसलिए इन गोलियों का ज़्यादा सेवन न करें ।

प्रेग्नेंसी रोकने कुछ आसान उपाय

  • आप अगर प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती हैं तो इसके लिए सबसे अच्छा उपाय नीम है यह एक दवा का काम करती है । यह शरीर मे शुक्राणु की गति कम करके गर्भ ठहरने को कम करती है । नीम के पत्ते, तेल और कैप्सुल गर्भ निरोधक के लिए उपयोगी होते हैं । अगर आपको कभी भी गर्भवती होने की संभावना लगे तो आप नीम के पत्ते चबा लें ।
  • अनचाहे गर्भ से बचने के लिए कच्चा पपीता बहुत उपयोगी माना जाता है यौन संबंध बनाने के बाद कच्चा पपीता खा लेना चाहिए इससे गर्भ ठहरने की संभावना बहुत कम हो जाती है । इसके साथ ही 2 से 4 दिन तक पपीता खाना चाहिए और पपीते का जूस पीना चाहिए।
  • हिंग का सेवन करने से भी गर्भ नहीं ठहरता इसका सेवन करने के लिए हींग को पानी मे मिला कर पीएं । इसका उपयोग करने से रुका हुआ गर्भ भी निकाल जाता है ।
  • अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने के लिए सूखी अंजीर भी बहुत उपयोगी होती है प्रेग्नेंसी से बचने के लिए दिन मे 2 बार सूखी अंजीर खाएं सिर्फ 2 से 3 ही अंजीर खाएं । इससे रक्त का प्रवाह अच्छा होता है ।

आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट प्रेग्नेंसी रोकने और अनचाहे गर्भ से बचने के आसान उपाय अच्छी लगी हो अगर आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद आई तो इसे शेयर करें और हमे कमेंट मे ज़रूर बताएं ।

Leave a Comment