दवाइयाँ

Himalaya Liv 52 Syrup in hindi – हिमालया लिव 52 सिरप की जानकारी

हिमालया लिव 52 सिरप की जानकारी : हिमालया लिव 52 सिरप हेपेटोप्रोटेक्टिव प्रभाव के साथ एक हर्बल-खनिज शंकुवृक्ष है जो यकृत और प्लीहा की कार्यात्मक दक्षता में सुधार करता है। यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट के रूप में भी कार्य करता है। हिमालया लिव 52 सिरप प्रसिद्ध हिमालया ड्रग कंपनी द्वारा निर्मित और विपणन किया जाता है।

प्रकृति: एंटीऑक्सीडेंट
संरचना: काॅपर बुश (हिमसरा), वाइल्ड चिकोरी (कासनी), मन्नदुर भस्मा, अर्जुन, ब्लैक नाइटशेड (काकामाची), यारो (बिरंजासिफा),
नीग्रो कॉफी (कासार्दा), तामरिस्क (झवुका), यारो (बिरंजसिपा)
उपयोग: पेट की समस्याएं, पीलिया, जिगर की समस्याएं, पाचन, पाचन संबंधी विकार, एनोरेक्सिया, अस्थमा, कब्ज, अपच, सर्दी, एडिमा,
अनुपस्थिति, मधुमेह, घाव, गर्भाशय के कैंसर, हल्के पाचन विकार, मलेरिया, भूख न लगना, पेट की समस्या, पित्ताशय की पथरी।
दुष्प्रभाव: त्वचा की जलन, त्वचा की जलन और बहुत कुछ।
सावधानियां: जिगर की बीमारी, गर्भावस्था के दौरान भूख न लगना, गर्भावस्था के दौरान पीलिया।

हिमालया लिव 52 सिरप के उपयोग और लाभ – Uses And Benefits of Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियों और स्थितियों के उपचार, रोकथाम और सुधार के लिए किया जाता है:

  • यकृत की सूजन  : हिमालया लिव 52 सिरप रक्त में प्रवाहित कोशिकाओं से लीक होने वाले कुछ रसायनों के स्त्राव को कम करता है और सूजन को कम करता है।
  • हेपेटाइटिस ए:  हेपेटाइटिस ए वायरस यकृत के कार्यों को बाधित करता है और तीव्र यकृत शोथ का कारण बनता है। हिमालया लिव 52 सिरप रिकवरी टाइम को काफी कम कर देता है और लीवर को पूरी शक्ति से वापस लाता है।
  • शराब हेपेटाइटिस:  शराब का सेवन यकृत शोथ के सबसे बड़े कारणों में से एक है। हिमालया लिव 52 सिरप शराब की खपत जैसे मतली और वजन घटाने के प्रतिकूल प्रभाव का प्रतिकार करता है। यह अल्कोहल के सेवन से होने वाले नुकसान से लीवर को भी नुकसान पहुँचाता है।
  • कब्ज
  • पीलिया
  • पाचन रोग
  • एनोरेक्सिया
  • दमा
  • शोफ
  • अपच
  • फोड़ा
  • मधुमेह
  • गर्भाशय का कैंसर
  • मलेरिया
  • पित्ताशय की पथरी
  • साइनसाइटिस
  • सर्दी
  • आंत्रशोथ
  • रक्ताल्पता
  • अल्सर
  • यक्ष्मा
  • पेचिश
  • जलोदर
  • बवासीर
  • सिरोसिस
  • ल्यूकोरिया
  • मासिक धर्म की समस्या
  • रक्तस्राव विकार
  • इंफ्लुएंजा
  • अत्यार्तव
  • मूत्रवर्धक एनीमिया
  • मलाशय से रक्तस्राव
  • स्टीटोसिस
  • सुस्त लिवर

हिमालया लिव 52 सिरप के साइड इफेक्ट्स – Side Effects of Himalaya Liv 52 in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप आमतौर पर सभी रोगियों द्वारा अच्छी तरह से सहन किया जाता है।

हिमालया लिव 52 सिरप की सामान्य खुराक – Common Dosage of Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप की खुराक निम्नलिखित कारकों पर निर्भर करती है:

  • बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई)
  • चिकित्सा का इतिहास
  • उपापचय
  • जीवन शैली विकल्प
  • रोगी की आयु

हिमालया लिव 52 सिरप को चिकित्सक द्वारा सुझाए गए अनुसार लेना चाहिए। उपयोग करने से पहले इसे अच्छी तरह हिलाएं और दवा का उपयोग करने के निर्देशों के लिए लेबल देखें। खुराक को मापने और मुंह से अंतर्ग्रहण सामान्य सूत्र है। खुराक को पूरा करें अन्यथा रोगी की स्थिति बिगड़ती रह सकती है। यह याद रखना चाहिए कि एक मरीज को चिकित्सक को सूचित करना चाहिए कि क्या वह किसी अन्य प्रकार की दवा के अधीन है। सर्वोत्तम परिणामों के लिए, एक निश्चित समय पर उपभोग करें, हालांकि यह भोजन से पहले या बाद में हो सकता है।

  • मिस्ड डोज़ यदि खुराक छूट गई है, तो जैसे ही आपको याद आए, उसे ले लें, लेकिन अगर अगली खुराक लेने का समय है, तो यह निर्धारित खुराक को छोड़ने और निर्धारित खुराक के अनुसार दवा जारी रखने की सलाह दी जाती है।
  • ओवरडोज: अति  चिकित्सा के मामले में तत्काल चिकित्सा के लिए तलाश करें।
हिमालया लिव 52 सिरप का संयोजन और प्रकृति – Composition And Nature of Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप के सक्रिय सामग्रियां निम्नलिखित हैं:

  • हिमसरा (द काॅपर बुश), जो कि अपने आप में एक शक्तिशाली हिपेटोप्रोटेक्टिव है और एस्कॉलेटिंग से मेलोंडिहाइड के स्तर को रोकता है। कैपर बुश में काफी एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं।
  • कासनी (चिकोरी): यह एक अन्य एंटीऑक्सीडेंट है जो शराब के सेवन से होने वाले विषाक्तता से जिगर को बचाता है। यह हेपेटोप्रोटेक्टिव होने के नाते, डीएनए के ऑक्सीडेटिव क्षरण की भी जांच करता है।
  • Mandur Bhasma
  • ब्लैक नाइटशेड
  • Kasamarda
  • अर्जुन
  • Biranjasipha
  • तामरिस्क
एहतियात और चेतावनी – जब हिमालया लिव 52 सिरप से बचने के लिए?

इस दवा को लेते समय कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं को ध्यान में रखा जाना चाहिए:

एक जिगर विकार जैसे कि फैटी एसिड प्रोटीन-ऊर्जा कुपोषण से संबंधित है।

वायरल हेपेटाइटिस, पूर्व-सिरोथिक स्थितियों और प्रारंभिक सिरोसिस, मादक यकृत रोग, भूख में कमी, एनोरेक्सिया, और विकिरण चिकित्सा के कारण यकृत की क्षति की रोकथाम और उपचार के लिए

गर्भावस्था के दौरान भूख और पीलिया का नुकसान।

हेमोडायलिसिस के सहायक के रूप में।

स्टैटिन, एंटी-ट्यूबरकुलर, केमोथेराप्यूटिक एजेंट और एंटीरेट्रोवाइरल जैसी हेपेटोटॉक्सिक दवाओं के सहायक के रूप में।

एक दीर्घकालिक बीमारी और आक्षेप के दौरान सहायक के रूप में।

अन्य ड्रग्स के साथ हिमालया लिव 52 सिरप इंटरैक्शन:
चिकित्सा के साथ बातचीत

काउंटर उत्पादों या दवाओं पर किसी अन्य के साथ हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग दवा की शक्ति को प्रभावित कर सकता है। किसी भी दवा के बारे में डॉक्टर के परामर्श से सूचित किया जाना चाहिए। हिमालया लिव 52 सिरप के साथ परस्पर क्रिया करने वाली दवाएँ हैं:

  • एंटी-हाइपरसेंसिटिव ड्रग्स
  • Tolbutamide
  • Glimepiride
  • Chlorpropamide
  • इंसुलिन
  • पियोग्लिटाजोन
  • रोसिग्लिटाज़ोन
  • ग्ल्यबुरैड़े
  • ग्लिपीजाइड

इन इंटरैक्शन के परिणामस्वरूप एलर्जी प्रतिक्रियाओं के किसी भी लक्षण को तुरंत या तो आपके डॉक्टर या स्वास्थ्य पेशेवर द्वारा निपटा जाना चाहिए।

हिमालया लिव 52 सिरप की भारत में कीमत – Himalaya Liv 52 Syrup Price in India

मात्रा:  200 मिलीलीटर सिरप की बोतल

मूल्य (INR):  110.0

हिमालया लिव 52 सिरप कैसे काम करता है – How Himalaya Liv 52 Syrup Works in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप के सक्रिय तत्व रसायन छोड़ते हैं जो मदद करते हैं

  • पाचन तंत्र में सुधार
  • यकृत एंजाइमों के सीरम स्तर को कम करता है
  • रोगाणुरोधी गतिविधि पैदा करता है
  • रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है
  • अल्सरजनन को दबाता है
  • एनाल्जेसिक कार्रवाई की संभावना
  • Cyclooxygenase अभिव्यक्ति को अवरुद्ध करता है
  • मस्तूल सेल की मध्यस्थता तत्काल एलर्जी प्रतिक्रियाओं को दबाता है
  • सेल क्षति के लिए जिम्मेदार मुक्त कणों को बेअसर करें
  • कुल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को कम करें
  • सिस्टोलिक और साथ ही डायस्टोलिक  रक्तचाप को कम करता है
  • इनोट्रोपिक और क्रोनोट्रोपिक प्रभाव प्रदान करता है
  • मल त्याग नियमित करें
  • मानव न्यूट्रोफिल इलास्टेज और मैट्रिक्स मेटालोप्रोटीनिस को रोकता है
  • इस्केमिक हृदय की चोट से संबंधित ऑक्सीडेटिव तनाव को रोकता है
हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग कैसे करें – How To Use Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi

हिमालया लिव 52 सिरप को एक निश्चित समय पर एक खुराक में लिया जाना चाहिए। डॉक्टर के पर्चे के अनुसार दवा लेने की सलाह दी जाती है। इसे भोजन के तुरंत बाद लिया जा सकता है। प्रत्येक उपयोग से पहले बोतल को अच्छी तरह हिलाएं। सटीक खुराक के लिए घरेलू चम्मच के बजाय एक मापने वाले कंटेनर का उपयोग करें। हिमालया लिव 52 सिरप के साथ संयोजन के रूप में किसी भी अन्य दवा या ओवर-द-काउंटर उत्पाद को लेने से बचें।

हिमालया लिव 52 सिरप कब निर्धारित किया जाता है?

हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग विभिन्न स्थितियों जैसे कि रोकने और उपचार के लिए किया जाता है

  • वायरल हेपेटाइटिस
  • प्रोटीन-ऊर्जा कुपोषण
  • शराबी यकृत रोग
  • भूख में कमी
  • विकिरण और कीमोथेरेपी-प्रेरित यकृत क्षति।
दवाई जिसे हिमालया लिव 52 सिरप के साथ नहीं लिया जाना चाहिए:

नीचे दी गई दवाइयाँ जो हिमालया लिव 52 सिरप के साथ नहीं लेनी चाहिए:

  • एंटी-हाइपरसेंसिटिव ड्रग्स
  • Tolbutamide
  • Glimepiride
  • Chlorpropamide
  • इंसुलिन
  • पियोग्लिटाजोन
  • रोसिग्लिटाज़ोन
  • ग्ल्यबुरैड़े
  • ग्लिपीजाइड
हिमालया लिव 52 सिरप कैसे स्टोर करें – How To Store Himalaya Liv 52 Syrup in Hindi
  • बोतल का ढक्कन टाइट रखें।
  • इसे धूप और गर्मी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करें।
  • दवा को बच्चों से दूर रखना चाहिए।
  • इसे पालतू जानवरों से दूर रखें।
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न
1) क्या मैं कब्ज और अपच के इलाज के लिए हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग कर सकता हूं?

उत्तर:  हां, हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग कब्ज और अपच के इलाज के लिए किया जा सकता है। इसके सेवन से पहले दवा के जोखिम और लाभों के बारे में डॉक्टर से परामर्श  करने की सिफारिश की जाती है 

2) क्या हिमालया लिव 52 सिरप पाचन में सुधार करने में मदद कर सकता है?

उत्तर:  हां, हिमालया लिव 52 सिरप पाचन और यकृत कार्यों पर सकारात्मक प्रभाव डालता है।

3) क्या हिमालया लिव 52 सिरप वजन कम करने में मदद करता है?

उत्तर:  नहीं, हिमालया लिव 52 सिरप वजन कम करने में सहायक नहीं है। लेकिन अगर इसे अश्वगंधा के साथ लिया जाए तो यह वजन घटाने में मदद कर सकता है।

4) अगर मुझे हिमालया लिव 52 सिरप की एक खुराक याद आती है तो मुझे क्या करना चाहिए?

उत्तर:  यदि आपको हिमालया लिव 52 सिरप की खुराक याद आती है, तो आपको याद आते ही दवा लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन अगर अगली खुराक लेने का समय है तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें और दवा को अनुसूची के अनुसार जारी रखें।

5) क्या हिमालया लिव 52 सिरप को गर्भावस्था के दौरान लिया जा सकता है?

उत्तर:  हाँ, हिमालया लिव 52 सिरप को गर्भावस्था के दौरान लिया जा सकता है। उचित खुराक और संबंधित जोखिमों और लाभों के लिए इसे लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना उचित है।

6) मैंने हिमालया लिव 52 सिरप की निर्धारित मात्रा का सेवन किया, मुझे क्या करना चाहिए?

उत्तर:  ओवरडोज के मामले में, तत्काल चिकित्सा की तलाश करने की सिफारिश की जाती है।

7) हिमालया लिव 52 सिरप सिरप की लत है?

उत्तर:  अभी तक किसी नशे की प्रवृत्ति की सूचना नहीं मिली है।

8) क्या मैं हिमालया लिव 52 सिरप का इस्तेमाल तुरंत बंद कर सकता हूँ या मुझे इसका सेवन बंद कर देना चाहिए?

उत्तर:  कुछ दवाओं को तुरंत रोका नहीं जा सकता है और उनका उपयोग पूरी तरह से रोकने से पहले उनके प्रभाव को समाप्त करना होगा।

9) भोजन से पहले या बाद में मुझे कितनी बार हिमालया लिव 52 सिरप लेना चाहिए?

उत्तर:  हिमालया लिव 52 सिरप को भोजन से कम से कम 30 मिनट पहले या बाद में लेना चाहिए।

10) हिमालया लिव 52 सिरप के दुष्प्रभाव क्या हैं?

उत्तर:  हिमालया लिव 52 सिरप के कोई दुष्प्रभाव नहीं हैं।

11) हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग कर पीलिया को ठीक करने के लिए उपचार की अवधि क्या है?

उत्तर:  उपचार की अवधि पीलिया के कारण पर निर्भर करती है। यदि कारण हल्का होता है, तो हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग करके 3 महीने का उपचार पर्याप्त है 

12) क्या हिमालया लिव 52 सिरप लिवर फंक्शन के परिणामों को बेहतर बनाने में मदद करता है?

उत्तर:  हां, हिमालया लिव 52 सिरप लिवर एंजाइम को कम करने में मदद करता है। हालांकि यह अभी भी बीमारी की गंभीरता और रोगी द्वारा दवा के प्रति प्रतिक्रिया पर निर्भर करता है।

13) क्या लिवर 52 सिरप पित्ताशय की पथरी के मामले में सहायक है?

उत्तर:  पित्त मूत्राशय की पथरी के मामले में हिमालया लिव 52 सिरप मददगार नहीं है।

14) क्या हिमालया लिव 52 सिरप में हीमोग्लोबिन (Hb) में सुधार होता है?

उत्तर:  नहीं, यह दवा आपके हीमोग्लोबिन स्तर को सीधे प्रभावित नहीं करती है।

15) मुझे मधुमेह है। क्या मैं हिमालया लिव 52 सिरप का उपयोग कर सकता हूँ?

उत्तर:  नहीं, आपके पास हिमालया लिव 52 सिरप नहीं हो सकता है क्योंकि इसके शर्करा की मात्रा से बचा जाना चाहिए।

16) क्या किडनी का मरीज हिमालया लिव 52 सिरप ले सकता है?

उत्तर:  हिमालया लिव 52 सिरप किडनी के कार्य को प्रभावित नहीं करता है। लेकिन यह अन्य आधुनिक दवाओं की तुलना में काफी बेहतर है।

आशा करता हूँ आपको यह पोस्ट हिमालया लिव 52 सिरप की जानकारी अच्छी लगी हो अगर आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद आई तो इसे शेयर करें और हमें कमेंट में ज़रूर बताएं |

Leave a Comment